FB_IMG_1506706103316पिछले कुछ दिनों से अपनी आगामी स्नातक स्तरीय प्रतियोगिता परीक्षा की तैयारी में काफी व्यस्त हूं। सास लेने तक का समय शेष नही मिल पा रहा है।

और अभी कुछ दिनों तक, कह नही सकता कब तक, यह अव्यवस्था ऐसे की कायम रहेगी। इसी कारणवश कोई नई रचना लिखने के लिए समय शेष नहीं मिल पा रहा।

इस बीच अगर आपके किसी सवाल या संदेश का उत्तर न दे सका और इस अव्यवस्ता के लिए आप सभी प्यारे पाठकों से क्षमा-प्राथी हूँ।

आप सभी प्यारे पाठको से गुजारिश है कि आप, अपने इस ब्लॉग पेज पर प्रकाशित तमाम रचनाओ का पाठन करें और आनन्द प्राप्त करे जो आपके अपने रचनाकार श्री विक्रान्त राजलीवाल जी के द्वारा रचित है।

उम्मीद है जल्द ही आप से फिर मुलाकात अवश्य होगी एक नए जोश, नई उमंग, एक नई रचना के साथ!

धन्यवाद!

आपका अपना रचनाकार एव लेखक विक्रांत राजलीवाल।(29/9/2017)22:49 pm

Advertisements

Leave a Reply