FB_IMG_1509438654143.jpgदिन के उजाले में दिखता नही, रात की कालिमा दिखा देती है,अक्सर अक्स अपना…

रचनाकार विक्रांत राजलीवाल द्वारा लिखित।

Advertisements

Leave a Reply