Writer, Poet & Dramatist Vikrant Rajliwal Creation's -स्वतन्त्र लेखन-

काव्य-नज़्म, ग़ज़ल-गीत, व्यंग्य-किस्से, नाटक-कहानी-विक्रांत राजलीवाल द्वारा लिखित। -स्वतंत्र लेखन-

Dec 12, 2017
Kavi, Shayar & Natakakar Vikrant Rajliwal (स्वतँत्र लेखन)

no comments

एहसास

प्रथम पुस्तक एहसास से विक्रांत राजलीवाल जी के द्वारा लिखित चन्द संवेदनशील समाजिक विषयो पर आधारित कविताओ के रूप में एक दर्द, से चंद पृष्ठ !

प्रथम प्रकाशित पुस्तक जिसका केंद्र-बिंदु हमारे मानव ह्रदय से समाजिक एव मानवता की भावना के कठोर होते भाव-व्यवहार पर अपनी कविताओं के द्वारा एक प्रहार की कोशिश मात्र है।

प्रकाशित समय जनवरी 2016 दिल्ली विश्व पुस्तक मेला/ संजोग प्रकाशन एव aroo publication शाहदरा पूर्वी दिल्ली द्वारा प्रकाशित।

रचनाकार/लेखक एव कवि विक्रांत राजलीवाल। द्वारा लिखित।

उम्मीद है आपको पसंद आए।

आगामी पुस्तके दर्द भरी नज्म-शायरी रूपी अधूरी महोबतकी अधूरी दस्ताने एव एक अत्यंत दर्द भरा उपन्यास संवाद के साथ

विक्रांत राजलीवाल द्वारा लिखित।
(स्वतन्त्र लेखन)

Ahsaas with upcoming book of painful & unsuccessful love issues.

And first Novel based on family, friendship, love triangle pain and lots of drama.(coming soon)

Written by Athour & Writer Vikrant Rajliwal.

Leave a Reply

Required fields are marked *.

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: