एक सच्चे कलाकार को, एक सच्चे क़लमकार को, एक सच्चे व्यक्तिव के व्यक्ति को कभी भी किसी भी स्वार्थी एव अहंकारी व्यक्तिव के व्यक्ति के समक्ष भूलवश भी नही झुकना चाहिए एव न ही स्वम् के निर्दोष व्यक्तिव की हत्या कर के उस निर्दयी से कोई समझौता ही करना चाहिए।

अगर भूल से भी किसी भृम के चलते किसी ने ऐसा किया तो वह अपने निर्दोष व्यक्तिव एव अस्तिव के पतन का इकलौता कारण स्वम् होगा।

विष की परख उसके उयोग करने से ही होती परन्तु उससे आपका जीवन भी समाप्त हो सकता है परन्तु कुछ गिने चुने हुए भुगतभोगी एव भग्यशाली व्यक्ति जो स्वम् किसी अत्याचारी के स्वार्थी व्यक्तिव से उतपन स्वार्थ एव अत्याचार के घिनोने विष से शोषित होने के उपरांत भी अपने कठोर जीवन संघर्ष एव कठिन परिश्रम से न केवल बच पाए बल्कि आज अन्यों के जीवन में भी हर प्रकार के उज्ज्वल प्रकाश की स्थापना के लिए पर्यसम्य है। हमे हमेशा ऐसे ही कुछ गिने चुने हुए श्रेष्ट व्यक्तिव के विजेताओं के एक मार्गदर्शन की हमेशा ही एक आवश्यता रहेगी क्योंकि उनके उस अनमोल मार्गदर्शन से हम अपने इस अनमोल जीवन मे हमेशा ही उन अत्याचारी एव स्वार्थी व्यक्तिव के व्यक्तिओ के शोषण से न केवल स्वम् को सुरक्षित रख सकते है अपितु अपना अनमोल समय एव जीवन अवसर को नष्ट किए बिना हम एक सुरक्षित मार्गदर्शन से उतपन हुए अपने आत्मविश्वास एव कठोर परिश्रम से हमेशा ही उन्नति के मार्ग की ओर अग्रसर होते जाएंगे। और एक दिन सफलता स्वम् कठोर परिश्रम एव दृढ़ उज्ज्वल व्यक्तिव के कदमों को चूमने हेतु कतार में खड़ी नज़र आएगी।

धन्यवाद।

विक्रांत राजलीवाल द्वारा लिखित।
10/10/2018 at 11:47 amIMG_20180729_111827_718.jpg

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s