होते है जब खुश आप तो कइयों के चेहरे उदास से हो जाते।
देख कर चेहरे पर उदासी पर आपके, उन्ही लोगो के चेहरे फूल से खिल जाते है।।

जानना चाहा है करीब से हम ने आपको, पर नसीब आप है के हम ही से अपना मुँह छुपाते है।

दूरी है दरमियाँ हमारे बहुत, पर नसीब हम है के आप पर ही अपनी जो जान लुटाते है।।

होते है जब खुश आप तो कइयों का चेहरे उदास से हो जाते है।
देख कर चेहरे पर उदासी पर आपके, उन्ही लोगो के चेहरे फूल से खिल जाते है।।

विक्रांत राजलीवाल द्वारा लिखित।
4/02/2019 at 15:30 pm

Advertisements

Leave a Reply