मैं आज चुनाव के नतीजे आने से पूर्व एक बार को अपने ह्रदय के भाव अवश्य इस संसार से सांझा करना चाहूंगा। जिसको यदि मैने इस समय भी इस समस्त संसार से सांझा नही किया तो शायद मैं स्वम् को कदापि क्षमा ना कर सकूंगा कि हा 2014 आम लोकसभा के चुनावों से पूर्व मोदी जी का नाम मैने प्रथम बार सुना था एव जिस प्रकार विपक्ष एव सत्तारूढ़ पार्टियों ने उनका एक नकारात्मक परिचय मीडिया के द्वारा उपलब्ध करवाया था उससे उस समय मोदी जी के नाम से मैं भी एक बार को भयभीत हो गया था परन्तु समस्त चुनोतियो पर विजय प्राप्त कर मोदी जी सत्तारूढ़ हो गए।

उसके बाद उन्होंने प्रत्येक क्षण अपने सक्रिय कार्यो के द्वारा अपना सकारात्मक प्रभाव डालते हुए ना केवल मुझ पर, भारतवर्ष पर अपितु इस समस्त संसार को अपने सकारात्मक कार्यो के द्वारा प्रभावित किया। जिससे आज मुझ को उनके नाम से भय नही होता अपितु सहज ही एक गर्व का भाव उतपन्न होने लगता है।

लिखने को तो मैं बहुत कुछ लिख सकता हु परन्तु उससे कहि आपको यह ना लगने लगे कि मैं किसी विशेष रणनीति पार्टी से सम्बंधित हु इसीलिए अंत मे केवल मैं इतना ही कहना चाहूंगा कि हाँ आज मैं गर्व से कह सकता हु कि मैं गांधी, नेहरू और मोदी के देश का नागरिक हु। हां मैं भी भारतीय हु।

वन्देमातरम, वन्देमातरम, वन्देमातरम।

जय हिंद।

विक्रांत राजलीवाल द्वारा लिखित।

18/05/2019 at 9:12 pm

Advertisements

Leave a Reply