🇮🇳 🙏 सबसे पहले तो मैं आप सभी देशवासियों को “स्वतँत्रता दिवस” एवं “रक्षा बंधन” की हार्दिक शुभकामनाएं प्रदान करता हु। और अब बात करता हु मेरी काव्य कविता “राजनीति और धर्म” की जो मेरी प्रकाशित पुस्तक “एहसास” से मानवतावादी भावनाओं से प्रेरित होकर मैने लिखी थी।

पुस्तक एहसास में सामाजिक, आध्यात्मिक एव मानवतावादी भावनाओं से प्रेरित मेरी शुरुआती 25 काव्य कविताएं है जिसका प्रकाशन वर्ष 2016 जनवरी में Sanyog पब्लिकेशन हाउस शहादरा द्वारा किया गया है। एव जिस को दिल्ली विश्व पुस्तक मेला 2016 में भी प्रदर्शित किया गया था। इसके साथ ही देश के जाने माने प्रिंटर्स ए वन प्रिंटर्स द्वरा प्रिंटिड है।

धन्यवाद।
विक्रांत राजलीवाल।

आप मेरी साइट से जुड़ कर मेरे द्वरा लिखित एव प्रकाशित मेरी सैकड़ो रचनाओं के साथ मेरी आगामी रचनाओ के पाठन का आनन्द प्राप्त कर सकते है।

मेरी इस वुडियो का YouTube लिंक है।

मेरी वेबसाइट का लिंक है।
vikrantrajliwal.com

मेरे यूट्यूब चैनल का यूआरएल पता है।
https://www.youtube.com/channel/UCs02SBNIYobdmY6Jeq0n73A

IMG_20190815_072559IMG_20190815_072608

मेरे फेसबुक पेज़ का लिंक है।

https://www.facebook.com/vikrantrajliwal85/

Translated

🇮🇳 🙏 First of all, I extend my heartiest greetings to all of you countrymen on “Independence Day” and “Raksha Bandhan”. And now speaking of my poetic poem “Politics and Religion” which I wrote from my published book “Ehsaas” inspired by humanistic feelings.

The book Awaaz contains 25 of my earliest poems inspired by social, spiritual and humanistic sentiments published by Sanyog Publication House Shahadra in January 2016. Eve which was also showcased at the Delhi World Book Fair 2016. Along with this, one of the famous printers of the country is Printed by A one Printers.

Thank you
Vikrant Rajliwal.

You can get the pleasure of reading my upcoming works along with my hundreds of works written and published by joining my site.

I have a YouTube link to this video.

My website has a link.
vikrantrajliwal.com

My YouTube channel url is

https://www.youtube.com/channel/UCs02SBNIYobdmY6Jeq0n73A

My Facebook page has a link.
https://www.facebook.com/vikrantrajliwal85/

Advertisements

Leave a Reply