नमस्कार मित्रों, आज से चार वर्ष पूर्व अपनी जिस अधूरी कहानी एक अत्यधिक दिलचसब नाटक के एहसासों को लिखने का प्रयास किया था! अब अपने अंतिम चरण; यानी कि लगभग अपनी 50% फाइनल एडिटिंग का कार्य सम्पन्न कर चुका हूं।

शीघ्र ही मेरी वह प्रथम अत्यधिक विस्तृत दर्दभरी कहानी एक पुस्तक के रूप में आपके विश्वसनीय हाथों के सपुर्द्ध कर दी जाएगी।

विक्रांत राजलीवाल।

Hello friends, four years ago, I had tried to write my first incomplete story of this very interesting drama. Now its last stage; That is, almost 50% of final editing has been completed.

Soon my first very detailed story , very sensitive drama will be made in the form of a book with your trusted hands.

Vikrant Rajliwal.

work on my upcoming novel+drana story
Advertisements

Leave a Reply