Advertisements

शराबों। (पुनः प्रकाशित)

ना वो प्याला रहा सलामत, ना वो दौर ए दस्तूर ही रह पाया कायम, बदलते समय से बदल गए हर यार यहाँ। देखें इस दुनियां में यार बहुत, ढूंढे ना ढूंढ़ पाए फिर भी यार शराबों सा हम यार यहाँ।। हर घुट से उतरता ज़हर, घुट घुट से चढ़ता ज़हर, तासीर है तिलस्मी, जिसका हरContinue reading “शराबों। (पुनः प्रकाशित)”

Advertisements

ब्रह्मांड और मस्तिष्क। (पुनः प्रकाशित)

हमारा यह विशालकाय ब्रह्माण्ड अनेक प्रकार के रहस्यों को अपने में समाय हुए हैं। और इस ब्रह्माण्ड के रहस्य अनेक प्रकार के आचर्यो से परिपूर्ण हैं। उन रहस्यो या आचार्यो कि कलपना भी कोई साधारण मनुष्य मस्तिक्ष नही कर सकता। परन्तु फिर भी कुछ  होनहार मस्तिक्ष उन तमाम अदभुत ब्रह्माण्ड के रहस्यों में से किसीContinue reading “ब्रह्मांड और मस्तिष्क। (पुनः प्रकाशित)”

🌹 कार्य, अनुभव एवं परिचय। ✍️(https://vikrantrajliwal.com)

नमस्कार मेरा नाम विक्रांत राजलीवाल है। मै हरित विहार बुराड़ी दिल्ली 84 भारत में रहता हूं। और मुझ को नई नई कहानियां, नाटक, सँवाद, किस्से, गीत, ग़ज़ल, नज़म, लिखना अत्यंत ही पसन्द है। और मैं अपने ह्रदय से इच्छुक हु की आपके साथ जुड़ सकूँ। एवं अपनी लेखन कला (कहानियां, सँवाद, नाटक, गीत ग़ज़ल) सेContinue reading “🌹 कार्य, अनुभव एवं परिचय। ✍️(https://vikrantrajliwal.com)”

💥 एक सेवा। // 💥 A Social Service.

🕊️🙏 यदि आप गरीब बच्चों, नशे से पीड़ित बच्चों, बीमार बच्चों के साक्षरता, स्वास्थ्य एवं बहेतर जीवन से सम्बंधित समाज कार्य करते है तो आप कभी भी मेरा चेरिटेबल नज़म, ग़ज़म, काव्य एवं शायरी का कार्यक्रम बिल्कुल मुफ्त करवा सकते है। इसके लिए मैं आपको कोई भी राशि नही लूंगा अपितु यकीन मानिए आप केContinue reading “💥 एक सेवा। // 💥 A Social Service.”

विक्रांत राजलीवाल। (एक दर्द एक कहानी।)

मैं यानी की विक्रांत राजलीवाल, आपका अपना मित्र, जीवन के हर रूप को दर्शाती हुई, प्रेम और मित्रता के नाजुक से रिश्तों से झुझती हुई अपनी जिस दर्दभरी कहानी पर वर्ष 2016 से कार्य कर रहा था एवं जो कुछ दिन पूर्व ही अपने अंजाम तक पहुच सकी है। मेरी उस अनकही और अनसुनी दर्दContinue reading “विक्रांत राजलीवाल। (एक दर्द एक कहानी।)”

मेरी कलम मेरी आवाज़।

यदि अपने से कोई भी नवन्तुक या प्रोफ़ेशनल कवि, शायर, ग़ज़लकार, व्यंग्यकार, कहानीकार, नाटककार मित्र जो अपनी रचनाओं के साथ समूह के प्रोजेक्ट्स पर भी परफॉर्मेंस प्रदान कर सकते है एवं सबसे अहम जो एक टीम एक साहितीयिक परिवार के रूप में मेरे साथ कार्य करना करने के इच्छुक है तो अभी व्हाट्सअप नम्बर। 91+9354948135Continue reading “मेरी कलम मेरी आवाज़।”

एक सूचना।

🌅 सुप्रभात मित्रों शीघ्र ही आपको मेरी ब्लॉग वेबसाइट पर प्रकाशित मेरी रचनाओँ एवं कहानी के संग्रह के साथ ही ; मेरी प्रथम विस्तृत कहानी पाठन हेतु उपलब्ध करवा दी जाएगी। जिसके शीर्षक से आपको शीघ्र ही सूचित कर दिया जाएगा। कृपया अपना अनोमोल प्रेम स्वरुप आशीर्वाद प्रदान कीजिए। कवि शायर एवं कहानीकार विक्रांत राजलीवाल।

खामोश एहसास।

भूतकालीन जीवन के कर्मों पर लगा कलंक; अपने जिस्म में बहते हुए लहू के आखरी कतरो से भी जब मिटा ना सके। हर बढ़ते कदम से खुद को जब हम और भी तन्हा महसूस करते गए।। हर आँसू बेमाने और ये ज़िंदगी, ये साँसे, ये धड़कती हर धड़कने इल्जाम कोई बेहूदा सा सिद्ध होने लगे।Continue reading “खामोश एहसास।”

🕯️🏷️एहसास।/🕯️🏷️ My Feeling’s.

आज किसी ने पूछा कि क्या आप शायरी के कार्यक्रम के लिए प्रतिष्ठित संस्थाओं से सम्पर्क के इच्छुक है तो हम आपकी भेंट करवा सकते है? तो मैंने अत्यंत ही सरल शब्दों में उत्तर दिया कि जी शुक्रिया परन्तु साहित्य के मसले में मैं किसी किंग से कम स्वयं को नही समझता हूं। यस आईContinue reading “🕯️🏷️एहसास।/🕯️🏷️ My Feeling’s.”

💥 एक संकल्प एक योगदान।

मित्रों मेरे जीवन का केवल एकलौता मकसद यही है कि मैं अपने जीवन अनुभवो से उन मासूम बालको को एक उचित दिशा का ज्ञान करवा सकूँ जो आज भी किसी ना किसी नशे की गिरफ्त में फंस कर अपना उज्वल भविष्य अनजाने ही बर्बाद कर रहे है। काव्य शायरी नज़म ग़ज़ल दास्ताने लिखना एवं गानाContinue reading “💥 एक संकल्प एक योगदान।”