Writer, Poet & Dramatist Vikrant Rajliwal Creation's -स्वतन्त्र लेखन-

Poetry, Kavya, Shayari, Sings, Satire, drama & Articles Written by Vikrant Rajliwal

May 6, 2019
Kavi, Shayar & Natakakar Vikrant Rajliwal Creation's

no comments

🙏 Vikrant Rajliwal (Translated)

Hello friends, I often get e-mails from my many dear readers and they praise my heart. And my readers explains that my readers feels the pain of my composition. Also, a question which he often asks me is why I write mostly poetry, najm, ghazal and when he will introduce them to my stories. So […]

May 6, 2019
Kavi, Shayar & Natakakar Vikrant Rajliwal Creation's

no comments

🙏 विक्रांत राजलीवाल।

नमस्कार मित्रों, अक्सर मुझ को मेरे कई प्रिय पाठकों के e mails प्राप्त होते है और वह मेरी रचनाओ की ह्रदय से प्रशंसा करते है। और बताते है कि मेरी रचनाओ के दर्द को वह महसूस करते है। साथ ही एक प्रशन जो अक्सर वह मुझ से पूछते है कि मैं अधिकतर काव्य, नज़्म, ग़ज़ल […]

May 5, 2019
Kavi, Shayar & Natakakar Vikrant Rajliwal Creation's

no comments

🇮🇳 राजनीति एव धर्म। // 🇮🇳 Politics and religion

🕯️ अभी खबरों के द्वारा ज्ञात हुआ कि कुछ चन्द देशद्रोहियों ने एक बार पुनः हिन्दू धर्म पर लांछन लगाते हुए समाज में एक भय का वातावरण उतपन करने का एक अत्यंत ही घिनोना प्रयास किया है। सत्य है राजनीति जब धर्म की आड़ में अपनी स्वार्थी रोटियां सेंकने पर विवश हो जाती है ना, […]

May 1, 2019
Kavi, Shayar & Natakakar Vikrant Rajliwal Creation's

no comments

एक सूचना। // An information.

नमस्कार प्रिय पाठकों एव ह्रदय अज़ीज़ श्रुताओं, मित्रों अब आने वाले कुछ समय अत्यंत ही व्यस्त एव व्यवस्त रहने वाले है क्योंकि संघ लोक सेवा आयोग एव अन्य विभागों के अफ़सरी परीक्षा के तारीख़ बेहद नजदीक अति जा रही है फिर भी समय समय पर कुछ समय निकाल कर आप सभी चाहने वालो के लिए […]

April 29, 2019
Kavi, Shayar & Natakakar Vikrant Rajliwal Creation's

no comments

💥एक सेवा और एक सहयोग। // 💥 One Service and One Collaboration.

नमस्कार मित्रों शायद आप मे से बहुत से महानुभव इस बात से परिचित नही होंगे कि मैं आपका अपना मित्र विक्रांत राजलीवाल वर्ष 2003-04 से नशे से पीड़ित मासूम व्यक्तियों के लिए स्वमसेवी संस्थाओ के साथ निःस्वार्थ भाव से सेवा करता आ रहा हु एव स्वम भी कई प्रकार के जटिल उतार चढ़ाव के उपरांत […]

April 22, 2019
Kavi, Shayar & Natakakar Vikrant Rajliwal Creation's

no comments

💥 जागरूक नागरिक कर आंकलन राजनेताओं का प्रकाश सत्य से…🇮🇳

जागरूक नागरिक कर आंकलन राजनेताओं का प्रकाश सत्य से, तदुपरांत चित शांत से व्यवहार मत का बदल देगा तस्वीर बिगड़ी हर तकदीर। दृढ़ संकल्प विशवास स्वम का स्वम पर कर धारण, चल राह सत्य से, ज्ञान स्वम् का, निर्भयता से मुक्त निर्भरता, चुनाव ईमानदारी का ईमान से।। कर देगा दूर हर भर्ष्टाचार हर भृष्ट व्यवस्था, […]

April 3, 2019
Kavi, Shayar & Natakakar Vikrant Rajliwal Creation's

no comments

🌹 दास्ताँ

💗 एक इंतज़ार… महोबत। मेरी आगामी अति विस्तृत दर्दभरी नज़्म श्रंखला के अंतर्गत मेरी प्रथम दर्दभरी नज़्म दास्ताँ एक इंतज़ार… महोबत। एक ऐसी दर्दभरी महोबत की दास्ताँ है जो यक़ीनन आपके ह्रदय पर अपने दर्द की पीड़ा से दस्तक़ देगी। और जिसका प्रत्येक शेर एव कलाम आपके धड़कते दिल को बेहिंतिया धड़कातें हुए आपकी हर […]