Writer, Poet & Dramatist Vikrant Rajliwal Creation's -स्वतंत्र लेखक-

काव्य-नज़्म, ग़ज़ल-गीत, व्यंग्य-किस्से, नाटक-कहानी-विक्रांत राजलीवाल द्वारा लिखित।-स्वतंत्र लेखक-

Feb 23, 2019
Writer, Poet & Dramatist Vikrant Rajliwal -स्वतंत्र लेखक-

no comments

🕯💦 ह्रदय एहसास

🕯14 फरवरी 2019 के दिन भारतवर्ष पर हुए अत्यधिक क्रूर आतंकी हमले में शहीद जवानों को नमन है। जीवन के दर्द प्रत्येक दिन एक अलग रूप में अपने होने का एहसास करवाते है। पीड़ा के इन्ही भावो से पीड़ित कुछ एहसास विक्रांत राजलीवाल द्वारा लिखित। 🕯 On February 14, 2019, there is a bow of […]

Feb 23, 2019
Writer, Poet & Dramatist Vikrant Rajliwal -स्वतंत्र लेखक-

no comments

👑 Thanks to the heart’s heart

☄ Vikrant Rajliwal is a writer, poet-poet-novelist-songwriter, dramatist-storyteller and independent thinker. 🎤 Today I am your own Vikrant Rajliwal with all the literature and poetry-najm-shayari, song-ghazals, satire, stories, drama-story-dialogues, and those true expressions of your heart in the form of your conscience. I want to express thank you Thanks to an simple child like me, […]

Feb 23, 2019
Writer, Poet & Dramatist Vikrant Rajliwal -स्वतंत्र लेखक-

no comments

👑 ह्रदय आभार

☄ विक्रांत राजलीवाल एक लेखक, कवि-शायर-नज़्मकार-गीतकार, नाटककार-कहानीकार एव स्वतंत्र विचारक। 🎤 आज मैं आपका अपना विक्रांत राजलीवाल आप सभी साहित्य एव काव्य-नज़्म,-शायरी, गीत-ग़ज़ल, व्यंग्य, किस्से, नाटक-कहानी-संवाद के प्रेमी पाठको एव श्रुताओं का अपनी अंतरात्मा स्वरूपी अपने ह्रदय के उन सच्चे भावो के द्वारा कोटि कोटि धन्यवाद व्यक्त करना चाहता हु। धन्यवाद मुझ जैसे एक अबोध […]

Feb 18, 2019
Writer, Poet & Dramatist Vikrant Rajliwal -स्वतंत्र लेखक-

no comments

🕯शहीदों को श्रधांजलि *आतंकवाद के खिलाफ संकल्प* (एक भाव विभोर श्रद्धांजलि)

🙏 नमस्कार है हर भारतीय समेत इस संसार के प्रत्येक व्यक्ति एव संस्था को जो आज इस गमगिम एव शोकाकुल समय मे आतंक से पीड़ित हम भारतीयों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़े हुए है कल दिनांक 17/02/2019 के दिन हमारे स्थानीय क्षेत्र हरित विहार में *वीर शहीदों को श्रद्धांजलि* *आतंकवाद के खिलाफ संकल्प* […]

Feb 16, 2019
Writer, Poet & Dramatist Vikrant Rajliwal -स्वतंत्र लेखक-

no comments

आज पुलवामा के शहीद परिवारों का दुख देख कर ह्रदय को अत्यंत ही शोक हुआ। एव आतंकियो के लिए ह्रदय समेत शरीर के रग रग से क्रोध की भीषण अग्नि सहज ही भड़क उठी। ईश्वर इस शोक के क्षण में शहीदों के समस्त पारिवारिक सदस्यों को एक आत्मशान्ति प्रदान करे। इसके साथ ही देश एव […]

Feb 16, 2019
Writer, Poet & Dramatist Vikrant Rajliwal -स्वतंत्र लेखक-

no comments

🕯 एक शाम पुलवामा शहीदों के नाम ( एक शोकाकुल Live कार्यक्रम)

एक शाम पुलवामा के शहीदों के नाम एक भाव विभोर श्रद्धांजलि ऑनलाइन Live शोकाकुल कार्यक्रम YouTube चैनल Kavi Vikrant Rajliwal पर! 17/02/2019 रात्रि 8:00 बजे। एक शाम पुलवामा के शहीदों के नाम। यह एक ऑनलाइन Live भावमात्मक एव शोकाकुल कार्यक्रम है। देश के दुश्मनों ने देश के ह्रदय पर जो यह एक बेहद गम्भीर घाव […]

Feb 16, 2019
Writer, Poet & Dramatist Vikrant Rajliwal -स्वतंत्र लेखक-

no comments

😠 असभ्यता।

सोशल मीडिया का तातपर्य केवल अपने फॉलोवर्स की संख्या बढ़ाने का नाम नही है। परन्तु कुछ निम्न स्तर के व्यक्तियों को क्यों इस बात का तनिक भी कोई एक एहसास नही हो पाता। और उन्हें लगता होगा कि कुछ भी उत पटांग टिपण्णी कर देंगे से उनके फॉलोवर्स की संख्या बढ़ जाएगी। चाहे उनकी वह […]